Digital Marketing Kya Hai: 12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाये कैरियर, 12th के बाद करें ये कोर्स, कमाए लाखों

Rate this post

अगर आप भी डिजिटल मार्केटिंग में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं या डिजिटल मार्केटिंग में करियर बनाने का विचार कर रहे हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं। इसलिए हमे आपको सभी सर्टिफिकेशन,डिप्लोमा एवं यूजी कोर्स के बारे में जानकारी देंगे जिसकी मदद से आप 12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग में अपना करियर बना सकते हैं।

Table Of Contents

आज के इस लेख में हम आपको बतायेगे Digital Marketing Kya Hai :12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाए करियर, 12th के बाद करें ये कोर्स,कमाए लाखो इस बारे में step by step पूरी जानकारी देंने वाले हैं और इसे पढ़ कर आप भी सफलता हासिल कर सकते हैं तो चलिए चलते हैं और इस लेख को पूरा पढ़ते हैं।

इंटरनेट की दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ाने वाली डिजिटल मार्केटिंग इंडस्ट्री है, क्योंकि आज के समय में सभी व्यापार ऑनलाइन हो गए हैं जिसके चलते आजकल सभी बिजनेस ऑनलाइन के जरिए से ही अपनी बिजनेस की मार्केटिंग करते हैं।

अगर आपने अपने करियर के लिए डिजिटल मार्केटिंग का चित्र चुना है तो आपका सबसे अच्छा निर्णय है क्योंकि स्किल सीखने के बाद बहुत सारी कंपनियों में अच्छे वेतन पर आसानी से नौकरी पा सकते हैं।

read more also

12वीं के बाद वह विद्यार्थी जो अपना करियर तय नहीं कर पा रहे हैं कैरियर किस क्षेत्र में बनाया जाए या वह छात्र जो डिजिटल मार्केटिंग में करियर बनाने का विचार कर रहे हैं तो उनके लिए डिजिटल मार्केटिंग एक शानदार क्षेत्र है।

Digital Marketing Kya Hai

Digital Marketing Kya Hai 12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाए करियर, 12th के बाद करें ये कोर्स,कमाए लाखो
Digital Marketing Kya Hai: 12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाये कैरियर, 12th के बाद करें ये कोर्स, कमाए लाखों

डिजिटल मार्केटिंग ग्राहक को ऑनलाइन लाने की एक कला है, जिसे ऑनलाइन मार्केटिंग भी कह सकते हैं। ऑनलाइन मार्केटिंग में इंटरनेट के माध्यम से अपने प्रोडक्ट या सर्विस का किया जाता है जिस कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विस पर ज्यादा से ज्यादा लोगों की पहुंचे हो सके।

ऑनलाइन के माध्यम से दुनिया के सभी ब्रांड अपने प्रोडक्ट या सर्विस को प्रमोट करते हैं इसके लिए वह कुशल डिजिटल मार्केटिंग को नौकरी पर रखते हैं जिससे कि वह उनकी ब्रांड को ऑनलाइन लोगो तक पंहुचा सके।

ऐसे पहले व्यापार जो इंटरनेट पर आधारित है उनके प्रॉफिट का एक बड़ा हिस्सा डिजिटल मार्केटिंग की जरिये ही आता हैं, क्योंकि कंपनी अपने प्रोडक्ट को या सर्विस बेचने के लिए इसी का सहारा लेती है।

डिजिटल मार्केटिंग में कैसे श्रेणी शामिल होती है जैसे सोशल मीडिया मार्केटिंग, एडवरटाइजिंग,कंटेंट मार्केटिंग, कंटेंट मार्केटिंग और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन आदि।

ऑर्गेनिक ट्रैफिक : तकरीबन सभी बिजनेस के अपने ब्लॉग और वेबसाइट होते हैं, और कौन वेबसाइट पर कोई अगर सर्च करके पहुंचता है तो उसे ऑर्गेनिक ट्रैफिक में माना जाता है। ये पूरी प्रक्रिया सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के द्वारा होती है।

कंटेंट मार्केटिंग: कंटेंट मार्केटिंग में ब्लॉक पर अपनी ऑडियंस के लिए आर्टिकल गाइड लेसन और भी ऑनलाइन कंटेंट अपलोड किया जाता है जिससे की यूजर को सही इनफॉरमेशन मिल सके।

ईमेल मार्केटिंग:  आजकल ईमेल के द्वारा अपने प्रोडक्ट या सर्विस गिराहको को बेचने में सहायक है ईमेल मार्केटिंग भी अपनी टारगेट मार्केटर तक पहुंचाने के लिए बहुत भूमिका निभाती है।

पेड सर्च:  डिजिटल मार्केटर गूगल सर्च इंजन या दूसरे सर्च इंजन को अपने प्रोडक्ट या सर्विस के प्रचार के लिए पैसा देता है और यह पैसा मार्केटर द्वारा किसी यूजर के कीवर्ड पर क्लिक के अनुसार दिया जाता है। इसको पीपीपी मॉडल कहा जाता है।

वेबीनार: आजकल वेबीनार बहुत प्रचलन में हो गया है कंपनी अपने ग्राहकों के लिए पेड़ या फ्री वेबीनार रखती है जिससे कि वह अपनी सर्विस और प्रोडक्ट के बारे में बेहतर जानकारी दे सके कि वह प्रोडक्ट या सर्विस कैसे हेल्प कर सकता है।

पॉडकास्ट: अपनी प्रोडक्ट या सर्विस को प्रमोट करने का और भी अच्छा तरीका है जिससे ऑडियो कंटेंट के माध्यम से ग्राहकों को जानकारी प्रदान की जाती है।

अगर आप भी कोर्स के माध्यम से डिजिटल मार्केटिंग सीखते हैं तो आपके ऊपर बतायी सभी मार्केटिंग स्ट्रेटजी सिखाई जाएगी।

Digital Marketing Course After 12th डिजिटल मार्केटिंग कोर्स फीस

डिजिटल मार्केटिंग सीखने के लिए इंडिया में आप विभिन्न कॉलेजो और इंस्टीट्यूट से सर्टिफिकेशन, डिप्लोमा और ग्रेजुएशन डिग्री आदि कर सकते हैं।

1 डिप्लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग

डिप्लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग को पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम इन डिजिटल मार्केटिंग के नाम से भी जाना जाता है यह कोर्स डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में सबसे अच्छा कोर्समाना जाता है। स्कोर्स की अवधि एक वर्ष है।

उम्मीदवार डिप्लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को विभिन्न कॉलेज  जैसे-गोकुल ग्लोबल यूनिवर्सिटी सिधपुर,आईएमटी गाजियाबाद,बाईएमसीए दिल्ली आदि करने की अनुमति देते हैं। कुछ कॉलेज आपको यह कोर्स डिस्टेंस या ऑनलाइन के जरिए से भी करने की सुविधा देते हैं।

2  बीबीए इन डिजिटल मार्केटिंग

यह एक ग्रेजुएशन कोर्स है जो भारत के कुछ कॉलेजों के द्वारा से कराया जाता है। यह डिजिटल मार्केटिंग कोर्स आपको एम एन सी कंपनियों के लिए विभिन्न डिजिटल मार्केटिंग तकनीक के बारे में समझने की अनुमति देता है। आपके यहां उन कॉलेजों की सूची और फीस के बारे में जानकारी दी गई है।

कॉलेज का नाम     डिजिटल मार्केटिंग कोर्स फीस
चिरस्ट  विश्वविद्यालय   1,42,000 रुपये
नरसी मोंजी इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज  6,71,000 रुपये
  क्वांटम विश्वविद्यालय   70,000 रुपये
मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज 27,919 रुपये
आईसीएफएआई बिजनेस स्कूल 1,09,000 रुपये
एम्स इंस्टीट्यूट       58,000  रुपये
नई दिल्ली इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट      73,300 रुपये
क्रिस्तु जयंती कॉलेज    50,000 रुपये
Digital Marketing Course After 12th डिजिटल मार्केटिंग कोर्स फीस

डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाएं करियर

डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाएं करियर
डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाएं करियर

डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र  में आने का निर्णय करने के बाद
अपना एक विशेष एरिया चुने जैसे एसईओ एक्सपर्ट, पीसी एक्सपर्ट,कंटेंट राइटर,ग्राफिक डिजाइनर, इत्यादि गूगल में बहुत से सर्टिफिकेशन कोर्स उपलब्ध है।

डिजिटल मार्केटिंग कैसे स्टार्ट करें How to Start Digital Marketing

Search Engine Optimisation SEO

अगर आप सर्च इंजन के जारीए अपनी वेबसाइट पर बहुत सारी ट्रैफिक या कस्टमर को लाना चाहते हैं तो आपको SEO का ज्ञान होना जरूरी है। शायद आप यह नहीं जानते होंगे की बहुत सारी कंपनियां अपनी वेबसाइट के ऊपर हजारों और लाखो रुपये खर्च करती है अगर आप SEO एक्सपर्ट बन जाते हैं यदि आप SEO एक्सपर्ट बन जाते हैं तो आप एक अच्छी सैलरी वाली जॉब प्राप्त कर सकते हैं।

Youtube Yhannel

आज के समय में यूट्यूब  भी एक ऐसा बड़ा सर्च इंजन है जिस पर बहुत अधिक का ट्रैफिक रहता है और यह एक ऐसा माध्यम है जहां पर आप अपने प्रोडक्ट को वीडियो द्वारा प्रमोट कर सकते हैं।

Blogging

डिजिटल मार्केटिंग में कदम रखने के लिए यह बहुत अच्छा तरीका है और आप इस पर फ्री में काम कर सकते हैं बहुत सारे लोगों ने ब्लॉगिंग से ही डिजिटल मार्केटिंग की शुरुआत की है। यह आपको सीखने और सीखने दोनों का काम करता हैं।

Social Media

सोशल मीडिया डिजिटल मार्केटिंग के लिए सबसे आसान और पॉपुलर जरिया है अपनी कंपनी और प्रोडक्ट्स के लिए प्रमोशन के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर सकते है।

Google AdWords

अपने इंटरनेट पर कई बार बहुत सारे विज्ञापन देखे होंगे क्या आप जानते हैं कि इसमें से अधिकतर विज्ञापन गूगल द्वारा दिखाए जाते हैं। गूगल एडवर्ड्स की हेल्प से आप भी अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग कर सकते हैं यह एक पेड सर्विस है जिसे के लिए आपको पैसे देने पड़ते हैं।
Google AdWords  के द्वारा आप कई प्रकार के विज्ञापन को चला सकते हैं -जैसे

  • Video ads
  • Gift ads
  • Text ads
  • Image ads
  • Text and Image ads
  • Match content ads
  • Pop up ads
  • Sponsored search etc
  • Display advertising

Affiliate Marketing

एफिलिएट मार्केटिंग पर आधारित होती है ऑनलाइन शॉपिंग और प्रोडक्ट बेचने वाली कंपनियां ऐसे प्रोग्राम चलती हैं जिसके तहत आप वेबसाइट के किसी भी प्रोडक्ट को भेज सकते हैं जिसके बाद कमीशन के रूप में
कुछ पैसे देती है। यह डिजिटल मार्केटिंग का सबसे अच्छा तरीका होता है जिससे वेबसाइट की मार्केटिंग भी होती है और प्रोडक्ट की भी सेल होती है एफिलिएट मार्केटिंग में प्रोडक्ट बेचने पर ही कमीशन मिलता है।

सिलेबस

Digital Marketing Syllabus

डिजिटल मार्केटिंग फंडामेंटल वेबसाइट प्लैनिंग एंड स्ट्रक्चरफेसबुक मार्केटिंग फंडामेंटल
फेसबुक एंड कैंपियनफेसबुक एडवांस स्ट्रेटजीगूगल एडवर्डस
यूट्यूब मार्केटिंगइंटीग्रेशन विद वेबसाइटगूगल एनालिटिक्स एंड वेबमास्टर टूल
सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशनलिंकडीन मार्केटिंगट्विटर मार्केटिंग
पिंटरेस्ट मार्केटिंगकंटेंट मार्केटिंग एनबाउंड मार्केटिंग
Digital Marketing Syllabus

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार

  • कंटेंट मार्केटिंग
  • सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन
  • सर्च इंजन मार्केटिंग
  • मोबाइल मार्केटिंग
  • ईमेल मार्केटिंग
  • एफिलिएट मार्केटिंग
  • सोशल मीडिया मार्केटिंग

इससे रिलेटेड विस्तार से जानकारी आपको ऊपर दी गई हैं।

डिजिटल मार्केटिंग में वेतन

डिजिटल मार्केटिंग में डिजिटल मार्केटिंग को अच्छा वेतन मिलता है फिर चाहे वह प्रेशर ही क्यों ना हो इसके साथ ही अगर आपको डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में कुछ अनुभव है तो आप वेतन पा सकते हैं।

वह छात्र जो अभी डिजिटल मार्केटिंग में नये है वह भी 3.6 लाख रुपए प्रति वर्ष वेतन पा सकता है। इसके साथ ही कुछ अनुभव प्राप्त करने के बाद 4.5 से 5 लाख रुपए प्रति वर्ष तक जा सकता है
और अगर कोई व्यक्ति डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में पांच से 10 साल का अनुभव प्राप्त कर लेता है तो उसको 12 से 20 लाख रुपए प्रति वर्ष वेतन पा सकता है।
और अगर कोई व्यक्ति डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में 10 साल का अनुभव प्राप्त कर लेता है तो बच्चे से 50 लख रुपए तक के वेतन की उम्मीद कर सकता है।
नीचे कुछ नौकरी प्रोफाइल और आपको उनका वेतन दिया गया है, जिम आप डिजिटल मार्केटिंग सीखने के बाद किसी भी प्रोफाइल में नौकरी कर सकते हैं।


नौकरी प्रोफाइल            औसत वेतन


डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर    4,70, 000 लाख रुपए प्रति वर्ष


एससीओ स्पेशलिस्ट                 1,90,000 लाख रुपए प्रति वर्ष

ईमेल मार्केटर              5,00,000 लाख रुपए प्रति वर्ष

मार्केटिंग स्पेशलिस्ट         4,60,000 लाख रुपए प्रति वर्ष

कंटेंट मार्केटिंग मैनेजर 6,40,000लाख रुपए प्रति वर्ष

वेब एनालिस्ट                3,60,000 लाख रुपए प्रति वर्ष

सोशल मीडिया मार्केटिंग मैनेजर     3,50,000 लाख रुपए प्रति वर्ष

सर्च इंजन मार्केटर       3,60,000 लाख रुपए प्रति वर्ष

12th के बाद डिजिटल मार्केटिंग के लिए कौन सा कोर्स बेस्ट है?

आंसर. 12वीं के बाद डिजिटल मार्केटिंग कोर्स में सर्टिफिकेट डिप्लोमा और डिग्री के तहत किया जाता है। इसमें डिजिटल मार्केटिंग मे सर्टिफिकेट,सोशल मीडिया मार्केटिंग में सर्टिफिकेट, डिजिटल मार्केटिंग में डिप्लोमा, डिजिटल मार्केटिंग में बीएससी/ बीए या बीबीए और भी शामिल है।

डिजिटल मार्केटिंग के लाभ

1. डिजिटल मार्केटिंग पारंपरिक मार्केटिंग की तुलना में काफी ज्यादा के किफायती होता है।
2. डिजिटल मार्केटिंग की सहायता से आप दुनिया के किसी भी कोने में व्यापार कर सकते हैं।
3. डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप कम लागत में भी अपने प्रोडक्ट और सर्विस को नहीं ऊंचाई तक ले जा सकते हैं।

4. डिजिटल मार्केटिंग की पहुंच छोटे से छोटे व्यापारियों के लिए संभव हो जाती है।

5. डिजिटल मार्केटिंग के जरिये एक छोटा बिजनेसमैन भी खुद का ब्रांड बना सकता है।

6. डिजिटल मार्केटिंग बिजनेस के ब्रांड वैल्यू बढ़ाने में भी मदद करता है।
7.डिजिटल मार्केटिंग में ग्राहकों की गतिविधियों आवश्यकताओं पर ग्राहक की रुचि रुझान आदि का पता चलता है।
8. डिजिटल मार्केटिंग से बिक्री के लिए समांतर मैं प्लेटफार्म तैयार हो जाता है जिससे मार्केटिंग के साथ सेल भी कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग सैलरी

डिजिटल मार्केटिंग Executive Salary लगभग 3-4 लाख रुपये सालाना।

  • डिजिटल मार्केटिंग की विशेषताएं
  •    डिजिटल मार्केटिंग की विशेषताएं
  • डिजिटल मार्केटिंग-
  • मार्केटिंग का ही तेज तरीका है।
  • अपने प्रॉडक्ट्स या सर्विस को व्यापक स्तर पर प्रचार करने का अच्छा कारगर तरीका है।
  • मार्केटिंग करने का यह तरीका इंटरनेट के जरिए से किया जाता है।
  • डिजिटल उपकरण जैसे मोबाइल लैपटॉप कंप्यूटर के जरिए से भी किया जाता है।
  • दुनिया के स्तर पर अधिक से अधिक और नए ग्रह को तक पहुंचाने का यह सीधा और सरल माध्यम है।
  • अपने उत्पादन या सेवाओं का प्रचार पुरानी तरीके से ना कर करके जैसे पोस्टर बैनर पम्पलेट आदि का उपयोग न करके मार्केटिंग या विज्ञापन कहीं डिजिटल तरीका है।
  • इसके जरिए ग्राहकों की एक्टिविटीज पर नजर रखकर उनकी आवश्यकताओं को भी पूरा करने की कोशिश की जा सकती है।
  • इसका मुख्य उद्देश्य अपने उत्पादों को दुनिया के स्तर तक करके पहुंचना है।

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कहां से करें

Google अपनी लर्निंग पोर्टल पर अपनी सबसे अच्छे डिजिटल मार्केटिंग कोर्स और सर्टिफिकेट फ्री दे रहा है इन ऑनलाइन कोर्स में आप एडमिशन लेकर ट्यूटोरियल और ऑनलाइन क्लास तक पहुंच सकते हैं। लेटेस्ट मार्केटिंग कोर्स आपको  हकीकत में बिजनेस परिदृश्य के लिए तैयार करेंगे।

Digital Marketing का अर्थ क्या है?


डिजिटल मार्केटिंग कैसा गुजरिया है जिसके द्वारा हम किसी भी उत्पाद या सर्विस को ऑनलाइन प्रमोट कर सकते हैं यह बेच भी सकते हैं। दिन-ब-दिन लोग बहुत ज्यादा ऑनलाइन सर्च  करते हैं फिर चाहे कोई भी वस्तु खरीदनी हो चाहे घर या
कपड़े खरीदना हो ज्यादातर लोग मोबाइल या कंप्यूटर के द्वारा ऑनलाइन सर्च करते हैं। 

डिजिटल मार्केटिंग सीखने में कितना समय लगता है?

डिजिटल मार्केटिंग सर्टिफिकेट कोर्स में तीन से 6 महीने का समय लगता है। और बैचलर कोर्स जैसे BBA आदि 3- 4 साल का होता है।

FAQ.

Q. घर बैठे डिजिटल मार्केटिंग कैसे करें?

उत्तर.घर पर डिजिटल मार्केटिंग करने के लिए आप कोई वेबसाइट बना सकते हैं सोशल मीडिया पर पोस्ट कर सकते हैं ईमेल मार्केटिंग और ब्लागिंग भी कर सकते हैं ऑनलाइन भी प्रशिक्षण ले सकते हैं।

Q. गूगल से डिजिटल मार्केटिंग कैसे सीखे?

उत्तर. गूगल डिस्टेंस डिजिटल मार्केटिंग कोर्स बिल्कुल फ्री है इनको उसको करने में अधिकतम 1- 40 घंटे की अवधि का टाइम लगेगा। डिजिटल मार्केटिंग कोर्स में गूगल द्वारा गूगल विशेषण क्यों द्वारा बनाई गई है अच्छी गुणवत्ता वाली होती है जिन्हें डिजिटल मार्केटिंग में परसों का अनुभव है।

Q.डिजिटल मार्केटिंग सीखना कितना आसान है?

डिजिटल मार्केटिंग करना कोई कठिन नही डिजिटल मार्केटिंग सीखना आसन हैं .अगर मेहनत और लगन से सीखते है तो डिजिटल मार्केटिंग सीखना आसन है .

conclusion

हमने अपने आज इस की महत्वपूर्ण लेख मे विस्तार से जानकारी दी है अगर आपको हमारी digital marketing kya hai डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाएं करियर,करें ये कोर्स से कमाई लाखों आपको उपयोगी लगी हो हम उम्मीद करते है जानकारी से आप जरूर लाभाँबित होऐ होंगे तो आप नीच दिए गए शेयर बटन पर क्लिक करके तब तक जरूर शेयर करें और किसी भी प्रकार की जानकारी या सहायता के लिए नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल करना ना भूले।

Spread the love

Leave a Reply

Translate »